Thursday, October 28, 2021
Homeभारतजब इस दिग्गज ने खिलाड़ी ने चोटिल होने के पर भी भारत...

जब इस दिग्गज ने खिलाड़ी ने चोटिल होने के पर भी भारत को बनाया था एशिया का चैंपियन, अब लगा करियर पर दांव, टीम इंडिया के बाद अब IPL से भी हुआ बाहर!

नई दिल्ली: आईपीएल 2021 का दूसरा फेज इस वक्त यूएई में खेला जा रहा है। इस लीग में दुनियाभर के खिलाड़ी अलग-अलग टीमों से खेलकर अपना जलवा बिखेरते हैं। वहीं कई खिलाड़ी ऐसे भी हैं जो अपने देश की टीम से निकाले जाने के बाद आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन कर वापसी करने की कोशिश करते हैं। लेकिन टीम इंडिया के लिए खेलने वाला एक दिग्गज क्रिकेटर ऐसा भी है जो अब टीम से बाहर होने के बाद खराब प्रदर्शन के चलते अपनी आईपीएल टीम से भी बाहर हो चुका है। जब केदार जाधव (Kedar Jadhav) दिग्गज ने खिलाड़ी ने चोटिल होने के पर भी भारत को एशिया का चैंपियन बनाया था। लेकिए अब करियर दांव पर लगा है।

 

खत्म हुआ इस दिग्गज का करियर

सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलने वाले  केदार जाधव (Kedar Jadhav) इस वक्त अपने करियर की सबसे खराब फॉर्म में हैं। जाधव लंबे समय से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं। केदार जाधव ने टीम इंडिया के लिए अपना आखिरी मैच पिछले साल फरवरी में खेला था और अब कप्तान विराट कोहली उन्हें टीम में लेना भी पसंद नहीं करते। टीम इंडिया के लिए लगातार खराब खेलने वाले जाधव अब आईपीएल में अपनी टीम सनराइजर्स हैदराबाद के लिए भी खराब खेल रहे हैं।

 

IPL टीम से भी हुए ड्रॉप

लगातार खराब प्रदर्शन के बाद केदार जाधव को अब उनकी आईपीएल टीम ने भी ड्रॉप कर दिया है। आईपीएल के पहले फेज की ही तरह दूसरे फेज में भी जाधव का बल्ला बिल्कुल नहीं चल पाया है, जिसके बाद उन्हें टीम से निकाल दिया गया है। बता दें कि जाधव को एमएस धोनी की टीम सीएसके ने भी खराब प्रदर्शन के लिए ड्रॉप कर दिया था। ऐसे में अब उनके करियर पर खत्म होने का खतरा मंडरा रहा है।

 

केदार जाधव (Kedar Jadhav)  की टीम सनराइजर्स हैदराबाद भी इस साल आईपीएल में सबसे ज्यादा खराब खेलने वाली टीम है। 10 मैचों में से इस टीम को 8 में हार का सामना करना पड़ा है और प्लेऑफ की रेस से भी ये टीम बाहर हो चुकी है। ये आईपीएल इतिहास में पहला ही मौका है जब हैदराबाद की टीम टेबल में सबसे नीचे है। केदार जाधव (Kedar Jadhav) को लगभग 1 साल से ज्यादा हो गया है लेकिन उन्हें अब भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया है।

इस बीच रवींद्र जडेजा के 48वें ओवर की दूसरी गेंद पर आउट होने के बाद अगले ओवर में भुवनेश्वर कुमार भी चलते बने। इस तरह भारत दवाब में आ गया और अब भारत की पूरी उम्मीदें जाधव पर टिकी थीं।

 

जब 2018 में आज ही के दिन एशिया कप का फाइनल मुकाबला खेला गया तब भारत को बांग्लादेश के खिलाफ जीत दर्ज करने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।  भारत को अब जीत के लिए 11 गेंदों पर 9 रन की दरकार थी। जाधव मैदान पर आए और स्थिति को भांपते हुए संभलकर बल्लेबाजी करने लगे। इस तरह उन्होंने आखिरी ओवर की आखिरी गेंद पर रन लेने के साथ ही भारत को एशियन चैंपियन बना दिया। इस मुकाबले में जाधव ने 27 गेंदों पर 23 रनों की पारी खेली। इस तरह भारत 7वीं बार एशिया कप जीतने में कामयाब रहा।

- Advertisment -

Most Popular

Enable Notifications    OK No thanks